Saturday, December 12, 2009

ड्रॉपबाक्‍स

पता चला, अच्‍छे ही पता चला, अंतरजाल पर मुफ्ति‍या 2 जीबी के आपको ऑनलाइन स्‍टोरेज की जगह मिलती है, और उतने मात्रा में आप अपने पीसी का 'माल' बिना किसी पेनड्राइव में ढोये किसी दूसरे पीसी पर ड्रॉपबाक्‍स की खिड़की से उठा सकते हो, या फिर जिसे चाहो, मेल से आमंत्रित करके उसके साथ अपने पीसी की फ़ाइल शेयर कर सकते हो, कैसे काम करता है की जिज्ञासा में मैंने छोटी नहीं, एक बड़ी डॉक्‍यूमेंट्री की फ़ि‍ल्‍म avi फ़ाइल दस-बारह परिचितों के बीच शेयर करने को भेजा, और बड़ी खुशी हुई कि पता चला, जहां भाइयों ने शेयरिंग को मंजूरी दी, वहां फ़ि‍ल्‍म की बड़ी फ़ाइल वैसे ही खुल रही थी जैसे एक चिंदी केबी साइज़ का मेल खुलता. तो ड्रॉपबॉक्‍स मज़ेदार है, इसलिए मज़ेदार है कि जयपुर या पलेर्मो की जोवान्‍ना को हम तड़ देना अपने कोटा में का उपलब्‍ध स्‍पेस में से फ़ाइल शेयर करवाना चाहते हैं तो वह खेल मिनटों में यह ले और वह दे के अंदाज़ में रपटन-रपटन संभव हो रहा है, मगर.. हां, मंगर.. मगर चक्‍कर है, चक्‍कर यह है कि इतनी आसानी से सब अच्‍छा ही हो तो फिर उदासी का गाना हम किस पेड़ पर चढ़कर गायें? गायेंगे?

मज़ाक दरकिनार, ड्रॉपबॉक्‍स का आप भी फ़ायदा उठायें, मेरे ख़्याल में तो मस्‍त चीज़ है, मगर एक प्रकट दिक्‍कत यह है कि आपने पैसे अदा करके अगर ज्‍यादा जगह नहीं खरीदी है तो फिर दिक्‍कत है, दिक्‍कत इस शक्‍ल में है कि जितने लोग आपके संग फ़ाइल शेयर करेंगे, उनके पीसी में घिरी जगह आपके पीसी की भी अलोटेड जगह का घिराव बनती चलेगी और देखते-देखते आपका ड्रॉपबाक्‍स 'जगह कम है, गुरु!' की उदासी गाने लगेगा!

इसका समाधान, जितना मुझे अपने अज्ञान में अभीतक समझ आया, वह यह है कि जो भी फ़ाइल शेयरिंग में आपको अपने ड्रॉपबाक्‍स के फ़ोल्‍डर में मिली, उसे तड़ से अपने पीसी में अन्‍यत्र कहीं कॉपी करके चिपका लें, और ड्रॉपबाक्‍स के वेबसाइट के अपने अकाउंट वाले मेनु से उस कॉपी हो चुके फॉल्‍डर को 'अनशेयर' करके घेरी हुई जगह को खाली कर दें, इस तरह आप अपने पीसी में ही जगह नहीं खाली कर रहे होंगे, जिस भले आदमी से आपको फ़ाइल प्राप्‍त हुई है उसके पीसी में भी जगह को राहत की सांस भरने देंगे, अदरवाइस फ़ाइल भेजनेवाले के लिए संभव ही न होगा कि वह ज्‍़्यादा वक़्त तक (शायद समूचे एक दिन तक भी?) एक फ़ाइल ड्रॉपबाक्‍स के वेबसाइट पर शेयर करने को छोड़ सके.

आई कुछ बात समझ में? अरे, खाली घुघूती का लिखना ही समझ आता है? हद है.

21 comments:

  1. समझ में आ रहा है। सब समझ रहे हैं। ई मामला हमारे लिये भी है लेकिन तभी तक जब कि ऐसन हरकत न करें कि लोग कहें बड़ा आलसी है ससुर ’गिरा बक्सा’ भी नहीं खाली कर पाता।

    ....तो वह खेल मिनटों में यह ले और वह दे के अंदाज़ में रपटन-रपटन संभव हो रहा है!

    पढ़कर मजा आया और लग रहा आपके यहां मौसम कुछ खुशगवार है। :)

    ReplyDelete
  2. आ गयी जी बात समझ में :)

    ReplyDelete
  3. पहली बात कि समझ में आ गया..और दूसरे बात कि बात दुरुस्त लगी..!

    ReplyDelete
  4. फिर तो कोई बढ़िया सी फिल्म पर हमारा भी हक़ बनता है सरजी..
    जयपुर को जोड़ दीजिये ड्रोप्बोक्स में..

    ReplyDelete
  5. हमको आपके ड्रॉप बॉक्स में से वो वाली फ़िल्म देखनी है भई. जरा लिंक विंक टिकाएँ.

    और, नेट पर और भी जुगाड़ हैं- ड्रॉप बॉक्स का 2 जीबी भर जाए तो लाइव ड्राइव भी है, जिसमें 25 जीबी का माल भर सकते हैं.

    ReplyDelete
  6. naa ji hamre khupadiya me na ghusi.. copy naahi karta hai.. download karen laagat hai..

    ek baari punah dekhaa jaay.. aur udaaas hone kaa full mood banaye rakha jaay!

    ReplyDelete
  7. 4.5kb डाउनलोड हो चुका है , समझेंगे बाद में । बाय ।

    ReplyDelete
  8. @अभय बाबू,
    अगर यह डाउनलोड करवाता है तब तो अपन लिमिटेड कोटावालों के लिए बड़ी डेंजर बात है, ऐसा न हो कि इस खलिहा के सत्‍तनारायण कथा में हम 7 gb डाउनलोडिन का केराया भरने में लुट जायें? समाजभ्रष्‍ट टेक्‍नोएस्‍सपर्ट इसपर अपनी राय दें..

    ReplyDelete
  9. सरजी.. ये तो शत प्रतिशत डाउनलोड करेगा...

    ReplyDelete
  10. @प्‍यारे कुश,
    मैं तो ख़ैर हमेशा का डराभरा, बकियों को ऐसे डराओ नहीं, पेंच खुले कुछ ऐसा समझाओ..

    ReplyDelete
  11. धन्यवाद लिंक के लिए. फिल्म डाउनलोड कर देख कर दुबारा धन्यवाद देंगे. :)

    डाउनलोड तो हमारे इधर भी बढ़िया कर रहा है, पर यह आपके कम्प्यूटर से नहीं, बल्कि ड्रॉपबॉक्स साइट से कर रहा है. आपके खाते तो बस एक बार चढ़ाने का खर्चा लगेगा.
    फिर भी, असीमित डाटा वाला कनेक्शन काहे नहीं लेते? चिंता की गुंजाइशे नहीं रहेगी. 256 केबीपीएस वाला बीएसएनएल/एयरटेल का 600-700 रुपए महीना है और अच्छा है.

    और यदि लैपटॉप के लिए घूमंतू किस्म का कनेक्शन लेना है तो बीएसएनएल या एमटीएनएल का ईवीडीओ कनेक्शन 600 रुपए में असीमित डाटा वाला बढ़िया है (अभी यही मेरे पास है)

    ReplyDelete
  12. जै हो, जय-जय हो, जय चिरकुट घनघोर गोंसाईं.

    ReplyDelete
  13. पुनश्‍च: एक बार पुन: पुनार माने बारी-बारीये.
    चिरकुट स्‍वयं को संबोधित था, जो सचमुच चिरकुट हैं उनसे निवेदन है कृपया अन्‍यथा न लें.

    ReplyDelete
  14. डॉपबॉक्स के फोल्डर में फिल्म नहीं मिली।
    बाकी इसका उपयोग करते रहेंगे, पहले समझ तो लें।
    समझदानी तो 2जीबी से भी छोटी है।

    ReplyDelete
  15. There is a possibility that one individual account or drop box can be shared among many users.

    ReplyDelete
  16. ड्रॉपबॉक्स में आपने अपना भेजा फूड ख़ुद ही खा दिया क्या, वहां कुछ नहीं है.

    ReplyDelete
  17. i am hungry but my food folder is empty...what should i do now? pls. send some nutritious food again.

    ReplyDelete
  18. आपने हमको चिरकुट कईसे कह दिया जी? हमको कुच्छो समझ में नहीं आया इसका क्या मतलब कि हम चिरकुट हो गये? :)

    ReplyDelete
  19. बकिया जब ट्राई करेंगे तब देखा जायेगा..

    ReplyDelete