Sunday, March 20, 2011

बेभांग..



(चित्र को बड़काकार देखे के लिए क्लिकियाकर नवका खिड़की में खोलिए..)

3 comments:

  1. दिमाग दुनिया में,
    मुँह गुजिया में।

    ReplyDelete
  2. चऊचक भंगचढ़ावन है :)

    ReplyDelete
  3. का बात है , होलियाय गए हैं भइया, लगे रहिये, पर जापान या लीबिया त मते जाइयेगा....

    ReplyDelete